BOOKS
BOOKS
eBOOKS
eMAGAZINES
AUTHORS
PUBLICATIONS
 
Search

बदलाव के राही
Pages: 191
Weight: 222 Gm
Binding: Paperback
ISBN13: 9789386622471
Share This Link:
https://www.bookganga.com/R/7W1S8

Available Immediately

 
Hard Copy Price: 10% OFF  R 250 R 225 / $ 3.21
(Inclusive of all taxes) + FREE Shipping*  
FREE Delivery in Maharashtra on orders over ₹499.00
For International orders shipment charges at actual.
Buy Book
Add to Cart

 
Standard delivery in 2-3 business days | Faster Delivery may be available

 
Preview
Summary of the Book
नि:स्वार्थ सामाजिक सेवा करनेवाली व्यक्ति जिनके लिए झगडती है, उसमें उनका हित साध्य होताही है; उसके साथ साथ अन्य लोगों के लिए भी वह कार्य अनुकरनीय होता है I ऐसे समाजसेवक अच्छे करियर के सपने देखनेवाले युवा-युवतियों के लिए दिशा निर्देशक का काम करते है I एकाध व्यावसायिक उद्योग निर्माण के लिए और वह चलाने के लिए झगडने से व्यक्तिगत और सामाजिक समृद्धी प्राप्त होने में मदद मिलती है I वंचितों का दु:ख हलका करने के लिए झगडने से करुणामय समाज की निर्मिती होने में मदद होती है I इन दोनो स्तर की प्रगति से समाज में संतुलन प्रस्थापित होता है I जिंदगी में अलग कुछ करने की इच्छा रखने वाले युवाओं के लिए मै इस पुस्तक की खासतौरपर शिफारीश करुंगा I
- रतन टाटा चेअरमन, टाटा ट्रस्ट

यह पुस्तक देशभर के २२ विलक्षण सामाजिक कार्यकर्ताओं की जीवनगाथा है I इन सभी ने अच्छा-खासा पैसा कमाने का करियर छोडकर अपनी खुद की अलग राह बनाई; इस नई राह ने दरकिनार हुये लोगों के जिंदगी में सकारात्मक परिवर्तन आया है I यह जीवनियाँ पढने के बाद कौन कहेगा की युवा पिढी केवल पैसे की आराधना में लगी है I यह कहानियाँ इस सत्य को भी अधोरेखित करती है की सामाजिक क्षेत्र में भी चुनौतियों से भरा करियर रचा जा सकता है I
Write a review
* Rating:

* Name:
* Email Address:
(Email is not visible to others)
* Comments:
 0/1024
* Verfication Code:
 

RECENTLY VIEWED
Login
Use MyVishwa.com
username or email to login.
Username / Email Address
Password
Forgot Password?
Signup
First Name
Last Name
Gender
Your Email Address
Choose Password
Country

Forgot Password?
Forgot Password
Email Me My New Password
Username Or Email Address